adsense code

Thursday, February 5, 2015

दुनियाँ में चाहे कोई

"जंगल का राजा सिंह सबसे ज्यादा पराक्रमी, बलशाली और शक्तिशाली होता हें । इतना सामर्थ्यवान होने के बाद भी
उसके मुख में शिकार अपने आप आकर नहीं गिरता। उसे भी उठकर परिश्रम करना पड़ता हें ।
दुनियाँ में चाहे कोई कितना भी समर्थ हें या असमर्थ हें, निर्बल या बलशाली हें, हर एक को परिश्रम करना पड़ेगा,
अगर वह सफलता  प्राप्त करना चाहता हें"।

1 comment:

navjyoti kumar said...

बिल्कुल सत्य है मेहनत का कोई शॉर्टकट नहीं है .. मेहनत है जरूरी ...

मेरे ब्लॉग पर आप सभी लोगो का हार्दिक स्वागत है.